Indian Sex Stories पहली चुदाई अपनी कज़िन की – First Sex Stories

मेरा नाम रोहित है और मैं दिखने मे काफ़ी हॅंडसम हूँ. मेरी उमर 32 साल है और मैं बहुत ही खुश नसीब भी हूँ क्योकि मुझ पर काफ़ी लड़किया मरती भी है. इसलिए मैं भी फ्लर्ट करने से कभी पीछे न्ही हटता हूँ. वैसे आज मैं आपके लिए बहुत ही मस्त कहानी लेकर आया हूँ जो की मेरी ही बीती हुई है और बहुत ही अच्छी और सच्ची कहानी है.

चलो ये तो खैर आप ही बताओगे की अच्छी है या न्ही पर मुझे इतना यकीन है की आपको मेरी ये कहानी बहुत ही ज़्यादा पसंद आएगी.

तो दोस्तो बिना कोई देर किए अब मैं आपको अपनी कहानी पर ले कर चलता हूँ. पर उससे पहले मैं आपको अपने बारे मे भी थोड़ा बता देता हूँ. मैं देल्ही मे ही रहता हूँ और देल्ही मे ही जॉब करता हूँ और मैं सुबह 9 से 5 बजे तक ऑफीस मे ही रहता हूँ और काफ़ी बिज़ी भी रहता हूँ.

मेरी बुआ भी देल्ही मे ही रहती है और उनकी 2 बड़ी बेटियाँ है. जिनका नाम प्रिया और रूपाली है. प्रिया 23 साल की है और रूपाली 20 साल की है. दोनो के दोनो बहुत ही ज़्यादा खूबसूरत है पर रूपाली प्रिया से भी ज़्यादा खूबसूरत है और काफ़ी सुंदर भी है.

रूपाली को देख कर मेरा मन करता है की मैं उसको चोद डालु इसलिए मैं हमेशा कुछ ना कुछ सोचता रहता हूँ. पर मैं हुमेशा अपने प्लान मे नाकामयाब होजाता हूँ. क्योकि मुझे ये पता है की मुझे ये मौका कभी मिल न्ही सकता है.

More Sexy Stories गर्लफ्रेंड के साथ पहली चुदाई
चलो खैर ये सब छोड़ो अब मैं आपको असली मे हुआ क्या है वो सब बताता हूँ. मेरी बुआ जेसे की देल्ही मे ही रहती है तो एक दिन मेरे पास उनका फोन आआया और उन्होने मुझे फोन पर बताया की वो उनका बेटा और फुफफ़ा जी दो दिन के लिए बाहर जा रहे है. और तुम्हे यहा घर पर आकर के रहना पड़ेगा क्योकि वो दोनो बहने अकेली होगी और आज के जमाने मे उन्हे अकेला भी न्ही छोड़ा जा सकता है.

मैने उनकी बात को अच्छे से समझा और फिर मैने उनसे उनके जाने के दिन पूछा तो उन्होने बताया की उन्हे सॅटर्डे सनडे और मंडे के लिए बाहर जाना है क्योकि वो ट्यूसडे को आजाएँगे. उनकी ये बात सुन कर मैं खुश हो गया और मैं समझ गया की मुझे भी सॅटर्डे सनडे को छुट्टी होती है इसलिए मैं आज़ौंगा.

फिर दो दिन बाद फ्राइडे को वो सुबह यानी की 12 बजे तक चले गये तो मैने भी सोचा की चलो अब मैं भी ऑफीस चला जाता हूँ. और फिर मैं वहाँ जा कर ऐसे ही बैठ कर सोचने लग गया की आज बुआ के घर जा कर उन दोनो बहनो मे से एक बेहन को ज़रूर चोदुन्गा.

और वही बैठे मैं सपने लेने लग गया और सोचने लग गया की केसे क्या करना चाहिए जिससे वो आसानी से राज़ी हो जाए और फिर तभी मेरे माइंड मे एक बहुत ही मस्त प्लान आया जिसको सोच कर अब मैने घर को आने की सोची. तो ये सोच कर मैने भी बॉस से हाफ डे की छुट्टी ली और घर को आ गया.

घर पर आ कर मैने एक बाग पॅक किया और उसके आगे वाली पॉकेट मे मैने दो सेक्सी बुक्स डाल दी जो की भाई बेहन की कहानियों की ही थी. और फिर मैं अपने घर से बुआ के घर के लिए निकल पड़ा. बुआ के घर पहुँच कर मैने वहाँ डोर बेल बजाई और फिर प्रिया ने दरवाजा खोला तो मुझे उस टाइम देख कर थोड़ा हेरान हो गयी और फिर बोली की इस टाइम तो मैने भी उसे हाँ कहा और फिर उसके साथ अंदर आ गया.

More Sexy Stories अपने परिवार मे कज़िन से चुदाई की
मैं अब अंदर आ कर सोफे पर बैठ गया और वो मेरा बाग अंदर ले जा कर रखने चली गयी. तो मैने भी अब उसके साथ पहले तो अच्छे से बात करी और फिर वही पर बैठ गया. तब उसने मुझे चाय दी और मैं भी बड़े मज़े से वहाँ बैठ गया और फिर इधर उधर की बाते भी करने लग गये. तब मैने उससे रूपाली को पूछा की वो कहा है तो प्रिया ने मुझे बताया की वो टशन गयी हुई है शाम को 7 ब्जे तक ही आएगी.

ये बात सुन कर मैं बहुत खुश हुआ क्योकि अभी मेरे पास पूरे 4 घंटे थे इसलिए मैं जो चाहता था वो सब हो सकता था. फिर हम बैठ कर बाते मरने लग गये और थोड़ा मस्ती मज़ाक भी करने लग गये.

तब मैने उससे उसकी स्टडी के बारे मे भी पूछा तो उसने मुझे बताया की वो भी स्टडी के लिए जाती है कोचैंग लेने पर कम ही जाती है यानी की जब ज़रूरत होती है तो तभी ही जाती है. उसकी ये बात सुन कर मैं भी बहुत खुश हुआ और फिर ऐसे ही थोड़ा बहुत टाइम पास करने लग गये.

और फिर मैने उसे जान कर अपने बाग के आगे वाली पॉकेट मे से चारजर लाने को भेजा और वो चली भी गयी. तो वो जब गयी तो वो वही बैठ गयी. मैं भी उसके पीछे पीछे चला गया और कर्टन के पीछे जा कर खड़ा हो गया और मैने उसे देखना शुरू कर दिया.

वो मेरे बाग मे सेक्सी बुक को देख कर खोल कर बैठ गयी और बड़े ही मज़े से पड़ने लग गयी. मैं भी उसे ऐसे ही खड़ा हो कर देखता रा और ऐसे ही 10 मिनिट निकल गये तो मैं वापिस जा कर उसे आवाज़ लगाई तो वो भागी हुई मेरे पास आई और मुझसे बोली की मुझे आपका चारजर न्ही मिला है.

तो मैने उसे अंदर वाली पॉकेट मे देखने को कहा तो वो दुबारा चली गयी और फिर वही बुक को थोड़ा पड़ने लग गयी पर साथ ही साथ उसने बंद करदी और फिर मेरा चारजर ले कर आ गयी. मैं भी अब चार्जिंग पर फोन लगा कर कमरे मे चला गया और सोने का नाटक करने लग गया. वो मुझे सोने जाते देख फिर से मेरे बाग के पास चली गयी और वही बुक को निकाल कर मन लगा कर पड़ने भी लग गयी. मुझे ये देख कर काफ़ी अछा लग रा था क्योकि मैं जानता था की आगे क्या होना था.

मैने भी उसे थोड़ा टाइम दिया और वो भी बड़े मज़े से पड़ने लग गयी और फिर मैं थोड़ी देर बाद चूपते हुए वहाँ गया तो मैने देखा की उसका एक हाथ उसकी पानटी मे था और बड़े मज़े से वो कहानी पढ़ रही थी.

मैं अब पीछे से जा कर उसे बुलाया और उसे कहा की क्या पढ़ रही हो. तो वो एक दम्से डर गयी और अपना हाथ निकाल कर बुक को बंद कर्दिया और बोली की कुछ न्ही भैया मैं तो कुछ न्ही पढ़ रही थी.

मैं भी उसका ऐसे कहने से थोड़ा हास पड़ा और फिर मैने उसे अपनी बाहो मे भर लिया और फिर वो मुझसे छूटने लग गयी. वो बोली की भैया आप ये क्या कर रहे हो. तो मैने भी उससे कहा की जो तुम पढ़ कर मज़ा ले रही हो वही करने जा रा हूँ. तो वो चुप हो गयी और फिर मेरे साथ ही चिपक गयी. मैने भी उसका साथ देते हुए उसे बाहो मे जाकड लिया और फिर उसके बाद उसकी पानटी मे भी हाथ डाल दिया जिससे उसके मूह से सिसकारी निकल गयी.

More Sexy Stories बहें की चुदाई की अपनी गांद मारवाके
उसके मूह से सिसकारी निकलते ही मैने उसके गरम होंठो को अपने होंठो मे भर लिया और चूसने लग गया. मुझे उसके होंठो को चूसने मे बहुत ज़्यादा मजा आ रा था और मैं काफ़ी खुश भी था.

अब मैने अपने एक हाथ से उसके बूब्स को पकड़ लिया और ज़ोर ज़ोर से दबाने लग गया जिससे वो सिसकारिया भरने लग गयी और मेरा लंड भी खड़ा होने लग गया. तो मैने उससे नंगा होने को कहा तो वो बोली की न्ही भैया अभी ये सब मत करो क्योकि रूपाली भी आने वाली है.

मैने भी तब उसकी बात को समझ लिया और उससे कहा की रूपाली के सोने के बाद तुम मेरे कमरे मे आओगी और फिर मैं तुम्हे जेसे चाहता हूँ वैसे चोदुन्गा. वो मेरी ये बात को मान गयी और फिर हम दोनो बैठ कर टीवी देखने लग गये . फिर करीब 20 मिनिट बाद रूपाली भी आ गयी और सच मे रूपाली को देख कर मेरा दिल तो जेसे खुश हो गया. और फिर मैने ये भी सोच लिया की प्रिया को तो चोदुन्गा ही पर अब रूपाली को चोदने के लिए उसे भी मनाने का सोचना पड़ेगा.

फिर हम सबने एक साथ बैठ कर खाना खाया और फिर कमरे मे बैठ कर टीवी लगा कर बाते मारने लग गये. हम काफ़ी देर तक बाते मारने लग गये और टीवी भी देखते रहे. वो दोनो बहने काफ़ी अच्छी अच्छी बाते मारने लग गयी जिसको सुन कर मुझे बहुत ज़्यादा अछा लगा और फिर हम अपने कमरे मे जा कर सोने लग गये. मैं भी अपने कमरे मे जा कर सोने लग गया पर मुझे तो नींद ही न्ही आनी थी इसलिए मैं अब वैसे ही लेटा हुआ प्रिया का इंतेज़ार करने लग गया.

More Sexy Stories पहली बार बहन की चूत चोदा
थोड़ी देर इंतेज़ार करने के बाद प्रिया अब मेरे कमरे मे आ गयी और मेरे पास आ कर लेट गयी. उसके आते ही मैने उससे रूपाली का पूछा तो उसने मुझे बताया की वो सो गयी है तो मैने भी बिना कोई देर किए उसे अपनी बाहो मे भरा और बड़े पायर से उसके जिस्म को सहलाने लग गया. उसने नाइट सूट डाल रखा था जिसको मैने बिना कोई देर किए उतार दिए और अब वो मेरे सामने बिल्कुल नंगी थी और वो नंगी इतनी अची लग रही थी की उसे ऐसे देख कर मेरा लंड एक डंडे की तरह खड़ा हो गया.

अब मैने उसके बूब्स को अपने हाथो मे लिया और ज़ोर ज़ोर से दबाने लग गया जिसे उसके मूह से आअहह आअहह निकलने लग गयी और उसकी ये आहह सुन कर मुझे अछा लगने लग गया और फिर मैने बिना कोई देर किए उसके बूब्स को अपने मूह मे भरा और चूसने लग गया. वो भी गरम हो चुकी थी और हम काफ़ी मज़ा आ रा था. मैने भी अब बिना कोई देर किए लंड को हाथो से निकाला और फिर उसके उपर आ कर लेट गया जिससे मेरा लंड उसकी चूत से जा लगाने ल्गा.

मैने भी अब उसकी टॅंगो को छोड़ा किया और उसकी चूत पर सेट कर एक ही झटके मे लंड को अंदर डाल दिया और उसके होंठो को अपने होंठो मे भर लिया. जिससे की वो छींख भी न्ही पाई और दर्द मे कापने लग गयी पर मैने भी बिना कोई रहम किए उसकी चूत को अच्छे से पेला और फिर जबरदस्त तरीके से चोद्ता ही चला गया.

मुझे उसकी आवाजो से ज़्यादा उसको चोदने मे मज़ा आ रा था और थोड़ी देर बाद वो भी मज़े से खुद को चुद्वा रही थी. मैने अब उसे करीब 20 मिनिट तक चोदा और फिर उसका पानी निकाल दिया और साथ ही साथ अपना पानी भी उसकी चूत मे निकाल दिया और फिर लंड निकाल कर उठा तो देखा की उसकी चूत खून से भारी हुई थी और चादर भी गंदी हो गयी थी. तो मैने उससे कहा की सुबह इससे धो देना और फिर मैने उसे किस करी और फिर उसने कपड़े पहने और रूपाली के पास जा कर सो गयी और इधर मैं भी सो गया.

कोई भी लड़की, भाभी सेक्स करना चाहती हो तो मुझसे संपर्क करे, सारी चीझे आपके अनुसार होगी। मेरी email id है storyboy2121@gmail.com